Kulbhushan Jadhav के बारे में बात करें तो भारत और पाकिस्तान के बीच खराब रिश्तों पर बात करने के दौरान यह मुद्दा है भी है जो अभी सुर्ख़ियों में है और इस बारे में बहुत कुछ कहा जा रहा है | अभी तक जो अपडेट आ रही है उसके अनुसार इंटरनैशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) ने कुलभूषण जाधव की फंसी की सजा को जिसे पाकिस्तान में उन्हें दी गयी है पर रोक लगा दी है और अंतर्राष्ट्रीय अदालत ने इस बारे में ख़त लिख कर नवाज शरीफ से इस बारे में कहा है | तो चलिए थोडा और जानते है Kulbhushan Jadhav history के बारे में इस पोस्ट में –

Kulbhushan Jadhav modern history in hindi 

Kulbhushan Jadhav के बारे में हम थोडा और जाने इस पहले आपको बताते है कि वह भारतीय नौसेना के रिटायर्ड अधिकारी है है जिन्हें जासूसी करने के आरोप में पिछले महीने पाकिस्तान के सैन्य कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई है | पाकिस्तान सरकार के साथ 15 से ज्यादा बार इस बारे में विफल बातचीत कर चुकी भारत सरकार ने इस बारे में 8 मई को international court में अपील की थी और अंतराष्ट्रीय कोर्ट ने इस बारे में फैसला भारत के पक्ष में दिया है | नीचे के ट्वीट में इस सुनवाई का एक दस्तावेज आप यह देख सकते है |https://myindianapps.blogspot.com/2020/07/camscanner-alternative.html
Kulbhushan Jadhav की फांसी रोकने के लिए दायर याचिका में भारत की और से यह दलील दी गयी है कि उन्हें अपना पक्ष तक रखने का मौका नहीं दिया गया है साथ ही ना ही भारतीय उच्चायोग के अधिकारियों से उन्हें मिलने की इजाजत दी गयी |  कुलभूषण जाधव की माँ ने पिछले महीने पाकिस्थान की सर्वोच अदालत में जाधव की फांसी के खिलाफ याचिका दी थी | साथ ही यह भी बता दे कि international court में इस मामले की पैरवी वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे कर रहे है |

अब हम बात करते है Kulbhushan Jadhav history के बारे में तो जाधव 1987 में  इंडियन नेशनल डिफेन्स अकैडमी में शामिल हुए थे और 1991 में भारतीय नौसेना की इंजीनियरिंग शाखा में नियुक्त किया गया था | सन 2001 में संसद पर हुए हमने के बाद इन्हें हमले के सबूत इक्कठा करने के काम में लगाया गया और साथ ही इन्होने करीब 14 साल इंटेलिजेंस विंग में काम किया |  16 अप्रैल 1970 को सुधीर और अवंती जाधव  के घर  सांगली, महाराष्ट्र में जन्मे कुलभूषण के पिता भी मुंबई पुलिस के रिटायर्ड अधिकारी है | जाधव विवाहित है और इनके दो बच्चे है जो परिवार के साथ मुम्बई के पवई में रहते है |
3 मार्च 2016 को कुलभूषण को गिरफ्तार कर लिया गया क्योंकि उन्हें ईरान की और से पाकिस्तान में घुसने के लिए दोषी माना गया | पाकिस्तान सेना के अनुसार कुलभूषण भारत की ख़ुफ़िया एजेंसी RAW के लिए एक प्लान के तहत काम कर रहे थे और उन्हें जासूसी करने का भी दोषी माना गया है जिसकी वजह से सेना प्रमुख कमर बाजवा ने एक आदेश जारी करते हुए फांसी की सजा दी है | उनके अनुसार वह पाकिस्तान में हिसां फैलाने के के लिए काम कर रहे थे साथ ही उनका मकसद यह था कि वह भारत और चीन के आर्थिक रिश्तों को खराब करें और बलूचिस्तान के अलगाववादियों को भी वो फंड मुहैया करवाने के सहयोग कर रहे थे | ISPR के एक बयान के मुताबिक Kulbhushan Jadhav ने मजिस्ट्रेट के सामने इस बात को कबूला है कि वो भारतीय खुफिया एजेंसी के लिए काम कर रहे थे |https://myindianapps.blogspot.com/2020/07/xender-alternative-app.html
वन्ही भारतीय सरकार का कहना है कि जाधव का सरकार से अभी कोई सम्बन्ध नहीं है और वह एक रिटायर्ड अधिकारी है जिन्हें ईरान से किडनैप किया गया है | वह ईरान में अपनी कुछ व्यापारिक गतिविधियों में लगे हुए थे और पाकिस्तान के आरोप सही नहीं है | साथ ही Itnernational court में अपनी अपील के दौरान भारत ने यह भी कहा है कि पाकिस्तान ने एक लम्बे समय तक Kulbhushan Jadhav की गिरफ्तारी के बारे में कोई सूचना भी नहीं दी थी | साथ ही मानवाधिकारों की रक्षा करने में भी वह जाधव के मामले में असफल रहा है | भारत ने जब जाधव को फांसी की सजा सुनाई गयी तो जबर्दस्त प्रतिक्रिया दी और यह कहा था कि अगर जाधव को फांसी होती है तो भारत -पाकिस्तान के रिश्ते में इस बहुत कुछ बदल सकता है | भारत सरकार ने यह बात मानी है कि वो नेवी में थे पर उन्होंने समय से पहले ही अवकाश ले लिया था जिसके बाद उनका भारत सरकार से किसी भी तरह कोई सम्बन्ध नहीं रहा |
तो ये है  Kulbhushan Jadhav modern history in hindi और इस बारे में अधिक जानकारी या सलाह के लिए आप हमे ईमेल कर सकते है और हमसे hindi history updates पाने के लिए आप हमे फेसबुक पर फॉलो कर सकते है
https://myindianapps.blogspot.com/2020/07/camscanner-alternative.html

0 टिप्पणियां