Reliance Jio Infocomm Limited एक कम्पनी जिसने हमारी जिन्दगी में बहुत कुछ बदल दिया है और हमे इस तरह का इन्टरनेट अनुभव दिया है जिसे हम भारतीय लोगो ने पहले कभी महसूस नहीं किया | 4G तकनीक के जरिये हमें तेज और सस्ता इन्टरनेट उपलब्ध करवाने वाली Jio की शुरुआत बड़ी शानदार रही है और ऐसे में यह सवाल उठता है कि यह परिवर्तन शुरू कन्हा से हुआ तो चलिए आज बात करते है Jio की history के बारे में इसके सफ़र के बारे में जिसने भारतीय टेलिकॉम सेक्टर में बहुत कुछ बदल दिया |

Reliance Jio Infocomm Limited Modern history in hindi

साल 2005 में जब Reliance Industries का जब बंटवारा हुआ तो यह कम्पनी के सारे कारोबार दो हिस्सों में बंट गये जिसमे Reliance Infocomm जो मुकेश अम्बानी के ड्रीम प्रोजेक्ट था वो अनिल अम्बानी की कम्पनी के हिस्से में चला गया | इसके अलावा Anil Ambani के पास जो जो कारोबार आयें उनमे मुख्य थे – टेलिकॉम , एंटरटेनमेंट , पॉवर और फाइनेंसियल सर्विसेज और मुकेश अम्बानी के हिस्से में आई Reliance Industries और IPCL | लेकिन उस समय दोनों भाइयों के बीच एक “non-compete”  अग्रीमेंट हुआ जिसके तहत दोनों भाई एक दूसरे के सेक्टर से जुड़े व्यापार में निवेश नहीं करेंगे | साधारण भाषा में कन्हे तो Mukesh Ambani जो है वो टेलिकॉम सेक्टर में इंटर नहीं हो सकते थे जिसकी वजह से आने वाले कई सालों तक उनका टेलिकॉम सेक्टर में आने का सपना अधूरा ही रहा | इसके बाद May 2010 में दोनों कंपनीज के बीच यह अग्रीमेंट ख़त्म हो गया | जिसके बारे में डिटेल्स आप Livemint  पर पढ़ सकते है |
Reliance Jio Infocomm Limited

Reliance Jio Infocomm Limited

अगर Jio के शुरू होने की पीछे थोड़ी गहरे में बात करें तो यह मुकेश अम्बानी ही थे जिन्होंने Reliance Infocomm को शुरू किया था और उस समय टेलिकॉम सेक्टर में सस्ते कॉल दर पर और बेहद सस्ते फ़ोन लांच करके भूचाल ला दिया था और Reliance Infocomm की सफलता का पूरा श्रेय मुकेश को ही जाता है लेकिन बंटवारे में टेलिकॉम का कारोबार चूँकि उनके भाई के पास चला गया था इसलिए उनके पास टेलिकॉम सेक्टर में आने के लिए वजह भी थी और पहले का अनुभव भी था जो उनके Reliance Jio Infocomm को सफल बनाने में काम आने वाला था |
अब जब उनके बीच में नॉन कम्पीट अग्रीमेंट ख़त्म हो चुका था तो मुकेश अम्बानी के लिए नये रास्ते खुल गये थे और अब वो टेलिकॉम सेक्टर में अपना हाथ आजमा सकते थे और आप जानते है जिस समय हमने Reliance Jio Infocomm या शोर्ट में कहें तो जिओ के बारे में सुना था उस समय बहुत से लोग 3G को भी ठीक से नहीं जानते थे और यह बात मुकेश अम्बानी को अच्छी तरह पता थी कि मार्किट में अब भी बहुत स्कोप् है और वो 4G तकनीक को लाकर बाकी टेलिकॉम कंपनीज से न केवल अच्छी सर्विस दे सकते है बल्कि वो भी बहुत कम दाम में | इसके बाद उन्होंने एक ऐसी कम्पनी Infotel Broadband में अपनी 96% हिस्सेदारी खरीद ली और उस समय यह केवल इकलौती ऐसी कम्पनी थी जिसने June 2010 में होने वाले broadband wireless auction (BWA) में पूरे भारत के सभी 22 सर्कल्स के लिए BWA में 4G स्पेक्ट्रम जीता था | इसके बाद यह कम्पनी Reliance के लिए उसकी एक ब्रांच कम्पनी की तरह काम करने लग गयी और January 2013 में इसका नाम बदलकर Reliance Jio Infocomm Limited कर दिया गया | इसके बाद Jio ने एक टेलिकॉम कम्पनी के रूम में पूरे भारत में टावर लगाने और हाई स्पीड ऑप्टिकल फाइबर का जाल बिछाना शुरू कर दिया | ऑप्टिकल फाइबर को पूरे देश में बिछाने में शुरूआती खर्चा डेढ़ लाख करोड़ रूपये बैठा और ऑप्टिकल फाइबर की कुल लम्बाई 2,50,000 Km बैठती है |
Reliance Jio Infocomm Limited

Reliance Jio Infocomm Limited


आपको बतातें हुए चले कि शुरू में RIL ने Jio को साल 2015 के अंत तक शुरू करने का सोचा था लेकिन दिसम्बर आते आते वो केवल Beta launch ही कर पाए क्योंकि Mukesh ambani पूरी तैयारी के साथ इसे लांच करना चाहते थे ताकि कस्टमर को ऐसा अनुभव मिले कि वो दूसरी बाकि सभी कंपनीज से बेहतर हो ऐसे में दिसम्बर 2015 में शाहरुख़ खान के हाथों एक आयोजन में उन्होंने  December 27, 2015 Jio को लांच किया और शुरुआत में इसे इस्तेमाल के लिए केवल रिलायंस कम्पनी के कर्मचारियों और उनके परिवार के लोगो के इस्तेमाल के लिए खोला गया ताकि टेस्टिंग की जा सके और कुछ कमियों को पब्लिक लांच से पहले ठीक कर दिया जाए |
इसके अलावा और भी बहुत सी चीजों में Jio बाकि कंपनीज से अलग है जैसे कि 60,000 कर्मचारियों के साथ शुरू हुई इस कम्पनी के देखा जाये तो सभी लोग young है और सभी कर्मचारियों की औसत उम्र देखें तो वह 30 साल होती है इस तरह कम्पनी का कहना है कि यह एक ऐसी कम्पनी है जिसमे सभी लोग युवा है और देश में युवाओं के लिए बेहतर इन्टरनेट की सुविधा देने के लिए हम एक बेहतर कम्पनी की तरह ऐसी दिशा में काम करना चाहते है जो लोगो को इन्टरनेट और कॉल से जुडी जरूरतें बेहद कम दाम में अच्छी क्वालिटी के साथ पूरी करें | इसके साथ ही Jio न केवल High Speed Internet मुहैया करवाते हुए टेलिकॉम सेक्टर के लिए चुनौती साबित हो रहा है बल्कि साथ ही वह दूसरे कई कारोबार में भी अपना भविष्य देख रहा है जैसे कि Mobile phone market , इन्टरनेट से चलने वाले Home Security Systems और Entertainment के लिए डिजिटल एप्स आदि |
Mobile Phone मार्किट और कनेक्टिविटी के उपकरणों में जिओ ने Lyf brand के तहत फ़ोन और JioFi को लांच किया जो बहुत ही सफलता पूर्वक भारतीय बाजार में अपने पैर जमाने में कामयाब हुआ है और रिकॉर्ड तोड़ बिक्री साथ जिओ ने न केवल भारतीय बाजार का पहला पूर्ण 4G नेटवर्क बना बल्कि दुनिया में किसी भी नई कम्पनी के लिहाज से सबसे कम समय में सबसे अधिक ग्राहक जोड़ने का रिकॉर्ड भी बनाया | हालाँकि कम्पनी अभी सफलता पूर्वक काम कर रही है और अपनी भविष्य की योजनाओं पर काम कर रही है लेकिन एक चीज जो सबसे शानदार Jio ने भारतीय बाजार के लिए ग्राहकों के हित में की है वो है इसके कम दाम के teriff की वजह से बाकि कंपनीज के दाम में कमी होना जिसका फायदा ग्राहकों को हो रहा है | आगे जो भी हो लेकिन अभी के लिहाज से देखा जाए तो हमे बाजार में इसी तरह की कंपनीज की जरुरत है जो कम्पटीशन पैदा करें जिसे ग्राहकों को कम दाम में बेहतर सुविधा मिले |
तो ये है Reliance Jio Infocomm Limited Modern history in hindi और अधिक जानकारी के लिए आप हमे ईमेल कर सकते है और हमसे history updates hindi में पाने के लिए आप हमसे ईमेल सब्सक्रिप्शन ले सकते है या हमे फेसबुक पर भी follow कर सकते है | 

0 टिप्पणियां